अंबाला में HTET का पेपर हुआ। जिसमें 17 परीक्षा केंद्र और 9714 परीक्षार्थी शामिल हुए। बड़े ही सख्त नियम पालन से एग्जाम हुआ।

Htet Exam आइए आपको बताते हैं कितने सख्त नियम का पालन किया गया एक्जाम के दौरान।

Htet Exam 2022: दो सत्रों में 6746 अभ्यर्थियों ने दी परीक्षा
Htet Exam 2022: दो सत्रों में 6746 अभ्यर्थियों ने दी परीक्षा

HBSE के द्वारा अंबाला में 3 और 4 दिसंबर को HTET एग्जाम हुआह इसमें कई छात्र-छात्राएं शामिल हुए। एग्जाम अंबाला में कराया गया कड़ी सुरक्षा में। परीक्षा के लिए 17 एग्जाम सेंटर थे इसमें से 11 सेंटर अंबाला कैंट और छह सेंटर अंबाला सिटी में बनाए गए थे। दोनों दिन लगभग 9714 विद्यार्थी शामिल हुए।

इस परीक्षा में तलाशी के बाद ही एग्जाम देने को दिया गया। कड़ी सुरक्षा के बीच जांच हुई इस दौरान परीक्षार्थियों की संख्या बहुत ज्यादा थी।

जांच में की गई सख्त करवाई कैसे छीन लिए गए गहने।

एग्जाम को पूरी सख्ती से की गई। इस दरमियान गहने पहने आए छात्रों को गहने के साथ एग्जाम देने का परमिशन नहीं था। इसमें मंगलसूत्र बिंदी और सिंदूर की ही इजाजत थी। और साथ में एडमिट कार्ड भी। महिलाओं के कानों से बाली और नाक से नैथिली ले गई। बाकी सामान को बाहर कर दिया गया। बहुत ही सख्त कार्रवाई थी।एक एक चीज को ध्यान से देखा गया। ताकि एग्जाम में चोरी होने की संभावना कम हो ना हो। इसलिए सरकार ने कङे इंतजाम किए थे। जिसमें छात्रों को एग्जाम देने में थोड़ा प्रॉब्लम हुई। लेकिन एग्जाम में अच्छे से हुआ।

क्या थी htet की टाइमिंग।

एग्जाम 3 दिसंबर को और 4 दिसंबर को हुआ था। जिसमें तीन को 3:00 से 5:00 तक एग्जाम था। और 4 दिसंबर को सुबह 10:00 से 12:00 तक दोपहर को 3:00 से 5:30 तक लिया गया। दो सत्रों में हुआ। इसमें कई छात्र आए थे और शामिल हुए थे। इस एग्जाम में धारा 144 लागू किया गया था। जिससे एग्जाम शांतिपूर्वक अच्छे से हो। और सरकार ने कई गाइडलाइन जारी किए थे। ताकि एग्जाम के समय कोई दिक्कत ना हो।

Rate this post